सरकारी योजनाएं मुख्य ख़बर

किसान क्रेडिट कार्ड योजना 2021 किसानों के लिए कितनी है लाभकारी… जानें इस योजना के बारे में

Kisan Credit Card scheme
Did you enjoy this post? Please Spread the love ❤️

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत देश के किसानों को एक क्रेडिट कार्ड दिया जा रहा है। जिसके जरिए से उन्हें 1 लाख 60 हजार का लोन दिया जाएगा। इस लोन के जरिए से किसान अपनी खेती की और अच्छे से देखभाल कर पाएंगे। इसी के साथ किसान अपनी फसल का बीमा भी करा सकेंगे। हाल ही में किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत पशु पालक और मछुआरों को भी शामिल किया गया है।

अगर आप भी किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत क्रेडिट कार्ड हासिल करना चाहते हैं तो आपको सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्रक्रिया को फॉलो करना होगा। किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लोन बिना किसी गारंटी के किसानों को 4% ब्याज दर पर मुहैया कराया जाएगा।

बतादें कि 8 अक्टूबर 2021 को केंद्र सरकार की ओर से ये अधिसूचना जारी की गई है कि सैचुरेशन ड्राइव के जरिए से करीब 2.5 करोड़ किसानों को 2.62 लाख करोड़ रुपए की क्रेडिट सीमा के साथ किसान क्रेडिट कार्ड दिया गया है। केंद्र सरकार की ओर से इस योजना का शुभारंभ किया गया था। जिसके जरिए से किसानों को समय पर ऋण उपलब्ध करवाया जाता है। इस योजना को सन 1998 में अल्पकालिक औपचारिक ऋण देने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। किसान क्रेडिट कार्ड योजना नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्चर एंड रूरल डेवलपमेंट के द्वारा संचालित की जाती है। अब इस योजना को पीएम किसान सम्मान निधि योजना से जोड़ दिया गया है।

इस योजना के जरिए से 4 फ़ीसदी ब्याज दर पर 3 लाख रुपए तक का कर्ज लिया जा सकता है। इस योजना के तहत आवेदन करने की प्रक्रिया भी काफी सरल कर दी गई है। कोरोना महामारी के दौरान 2 करोड़ से अधिक क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं। ये क्रेडिट कार्ड ज्यादातर छोटे किसानों को दिए गए हैं। इस योजना के जरिए से कृषि, मत्स्य पालक और पशुपालक क्षेत्रों के किसानों की ऋण की जरूरत पूरी की जा सकती हैं। इसके अलावा इस योजना के जरिए से बैंक द्वारा दिए जाने वाले नियमित ऋण की ब्याज दरों पर छूट भी दी जाती है। इस योजना से किसान अपनी फसल की कटाई की अवधि के आधार पर अपना ऋण भी चुका सकते हैं।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना किसानों को आर्थिक सहायता देने के लिए शुरू की गई है। इस योजना के जरिए से किसान एक लाख 60 हजार रुपए तक का लोन ले सकते हैं। अब इस योजना का विस्तार सभी पीएम किसान योजना के लाभार्थियों के लिए भी किया जा रहा है। इसके साथ ही सभी पीएम किसान योजना के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड दिया जाएगा। सभी पीएम किसान के लाभार्थियों को क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने के लिए अपने बैंक ब्रांच में जाना होगा जहां पर उनके पीएम किसान अकाउंट है। सरकार की ओर से सभी बैंकों से भी सभी पीएम किसान लाभार्थियों की सूची तैयार करने के लिए कहा गया है और इस सूची को किसान क्रेडिट कार्ड के लाभार्थियों की सूची से मिलाने के लिए कहा गया है। जिससे कि उन लोगों की सूची बनाई जा सके जिनको पीएम किसान योजना का लाभ हासिल हो रहा है।

वहीं वो लाभार्थी जिनको पीएम किसान योजना का लाभ मिल रहा है, लेकिन किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ नहीं ले पा रहे हैं उनकी सूची बैंक द्वारा गांव के सरपंच को भेजी जाएगी। इसके बाद किसान के लाभार्थियों को अपना किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा। इसके अलावा सरकार द्वारा पीएम किसान पोर्टल के जरिए से सभी लाभार्थियों को एक SMS भेजा जाएगा। इस SMS के जरिए से उन्हें किसान क्रेडिट कार्ड लेने के लिए प्रेरित किया जाएगा।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ उठाने के लिए सभी पीएम किसान लाभार्थियों को एक फॉर्म भरना होगा, जिसमें उनको सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी। ये फॉर्म शेड्यूल कमर्शियल बैंक, पीएम किसान पोर्टल के जरिए से भी डाउनलोड किया जा सकता है। इस योजना की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा प्रचार किया जाएगा। लाभार्थी इस योजना के तहत कॉमन सर्विस सेंटर के जरिए से भी फॉर्म भरा जा सकता है। सभी अधिकारियों से ये अपील की गई है कि इस योजना की जानकारी सभी लाभार्थियों तक पहुंचाई जाए, जिससे कि ज्यादा से ज्यादा लोग इस योजना का लाभ उठा सकें।

किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा करीब-करीब सभी बैंकों द्वारा दी जाती है। किसान अपने नजदीकी बैंक में जाकर इस सुविधा के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं। किसान क्रेडिट कार्ड निम्नलिखित बैंकों द्वारा प्रदान किया जाता है।

HDFC बैंक
बैंक ऑफ इंडिया(BOI)
एक्सिस बैंक
पंजाब नेशनल बैंक (PNB)
स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI)
आईसीआईसीआई बैंक (ICICI)
बैंक ऑफ़ बरोदा

जैसे सभी लाभार्थी किसानों को इस योजना के तहत क्रेडिट कार्ड या फिर पासबुक दी जाएगी। जिसमें उनका नाम, एड्रेस, लैंडहोल्डिंग डिटेल, बॉर्रोइंग लिमिट, वैलिडिटी जैसी कई जानकारी दर्ज होगी। लाभार्थी किसान को एक अपनी पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ पासबुक में लगानी होगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को ओर अधिक लाभ पहुंचाने के लिए साल 2020 में पीएम किसान योजना के तहत प्रधानमंत्री किसान क्रेडिट कार्ड योजना की शुरूआत की थी। इस योजना के तहत देश के बहुत से किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड देकर कम ब्याज दर पर ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। जिससे किसान अपनी खेती से संबंधी हर परेशानी को दूर कर सके। इस योजना को शुरू हुए पूरा एक साल हो चुका है, केंद्र सरकार की ओर से साल 2020 में किसान क्रेडिट योजना के तहत देश के करीब 2.5 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड मुहैया करने का लक्ष्य बनाया था, जिसमे से अब तक केंद्र सरकार की ओर से देश के लगभग 1.82 करोड़ किसानों को लाभान्वित किया जा चुका है ।

साल 1998 में किसान क्रेडिट कार्ड योजना को शुरू किया गया था। कोरोना संक्रमण के चलते किसान क्रेडिट कार्ड पर सरकार द्वारा एक नई ब्याज दर की घोषणा की गई थी। एक विशेष अभियान के तहत उत्तर प्रदेश के चित्रकूट जिले से पीएम नरेंद्र मोदी ने 25 लाख से अधिक लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड बांटे हैं। जिसके लिए 2 हजार से अधिक बैंक की शाखाओं को काम सौंपा गया है। किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत क्रेडिट कार्ड पर सालाना 7 फ़ीसदी की ब्याज दर देनी होगी। किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए से फसल और इलाके के लिए कृषि बीमा भी मिलता है और केसीसी से बची राशि पर सेविंग बैंक रेट पर ब्याज भी मिलता है।

अगर लाभार्थी अपना लोन 1 साल के अंदर निपटा देता है तो लाभार्थी को ब्याज दर में 3 फीसदी की छूट मिलेगी और 2 फीसदी की सब्सिडी मिलेगी। मतलब कि किसानों को कुल 5 फीसदी की छूट मिल जाएगी। इसका मतलब ये है अगर किसान 1 साल के अंदर लोन चुका देता है तो उसे 3 लाख तक केवल 2 फ़ीसदी ब्याज देना होगा। अगर आप भी किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई करना होगा।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना की खास बातें 

1. पीएम किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थियों को किसान क्रेडिट कार्ड योजना का भी लाभ दिया जाता है।
2. ये लाभ हासिल करने के लिए किसानों को बैंक में फॉर्म जमा करना होगा।
3. आत्मनिर्भर भारत योजना के तहत भी सरकार की ओर से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाए जा रहे हैं।
4. इन क्रेडिट कार्ड के जरिए से किसानों को आसानी से और कम ब्याज पर लोन मुहैयाक करवाया जाता है।
5. वो सभी किसान जिन्होंने किसान क्रेडिट कार्ड बनवाया है और किसी वजह से उनका कार्ड बंद हो गया है तो उसे दोबारा चालू करना
बहुत आसान है।
6. किसान क्रेडिट कार्ड की वैधता 5 साल होती है।
7. पीएम किसान सम्मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर मौजूद केसीसी फॉर्म के जरिए से आप अपने कार्ड की लिमिट बढ़ा
सकते हैं और बंद कार्ड को दुबारा से शुरू कर सकते हैं।
8. किसान क्रेडिट कार्ड के जरिए से लाभार्थी 3 लाख तक का लोन 9% ब्याज पर ले सकते हैं।
9. सरकार द्वारा इस ब्याज पर 2% की सब्सिडी दी जाती है। यानी कि किसानों को केवल 7% ब्याज पर लोन दिया जाएगा।
10. अगर किसान समय से लोन चुका देता है तो उसे 3% की अतिरिक्त छूट दी जाती है। यानी की इस स्थिति में किसान को केवल 4% का ब्याज का भुगतान करना होगा।

क्रेडिट कार्ड योजना किसान 2021 के फायदे

1. इस योजना का लाभ देश के सभी किसान उठा सकते हैं।
2. क्रेडिट कार्ड योजना किसान 2021 के तहत प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत जुड़े सभी किसानों को योजना का लाभ दिया जाएगा।
3. देश के किसानों को इस क्रेडिट कार्ड के जरिए 1 लाख 60 हज़ार रूपए का लोन केंद्र सरकार की ओर से दिया जाएगा।
4. इस योजना के तहत लोन हासिल करने वाले किसान अपनी खेती-बाड़ी को अच्छे से कर सकेंगे।
5. इस योजना का लाभ देश के करीब 14 करोड़ किसानों को उपलब्ध कराया जाएगा।
6. किसान क्रेडिट कार्ड से हर बैंक में लोन लिया जा सकता है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.